English Bolna Or Likhna Sikhiye Chapter No. 6 Case

पिछले ब्लॉग में जाना Gender (लिंग) का विवरण एवं इसके भेदों पर प्रकाश डाला Masculine से Feminine बनाने के तरीके। आज Case (कारक) को परिभाषित करेंगे। एवं उसके के भेदों को समझेंगे।
Case और साथ ही साथ जानेंगे Formation of Possessive Case क्या होता है।

Case को हिंदी में कारक कहते हैं। किसी वाक्य (Sentence) में Noun (संज्ञा) और Pronoun (सर्वनाम) का दूसरे शब्दों के साथ के सम्बन्ध को Case कहते हैं।
(The relation in which a noun or pronoun stands to some other words is called Case.)
अँग्रेजी में Noun के चार Case होते हैं-
1. Nominative Case (नॉमीनेटिव केस) कर्त्ता कारक ,
2. Objective Case (ऑबजेक्टिव केस) कर्म कारक,
3. Vocative Case (वॉकेटिव केस) सम्बोदान कारक और
4. Possessive Case (पॉजेसिव केस) संभंध कारक

1. Nominative Case

Nominative Case को हिंदी में कर्त्ता कारक कहते हैं। जब Noun या Pronoun का प्रयोग किर्या (Verb) के कर्त्ता (Subject) की तरह होता है, तब उसे
Nominative Case (कर्त्ता कारक) कहा जाता है।
(If a noun or pronoun is used as the the subject to a verb, it is in the Nominative Case.)
निम्नलिखित वाक्यों पर ध्यान दें :
Hari writes a letter. Mohan sings a song.
इन वाक्यों में ‘Hari’ और ‘Mohan’ Nominative Case में हैं, क्योंकि प्रथम वाक्य में Letter लिखनेवाला Hari है और दूसरे वाक्य में संगीत गानेवाला Mohan.
यदि Subject का पता लगाना हो, तो Verb (किर्या) के पहले ‘Who’ का प्रयोग करना चाहिए। उत्तर में जो Noun आए वही Subject है; जैसे- उप्पर के उदाहरण को ही देखें-
प्रश्न                                       उत्तर
Who writes a letter?            Hari.
Who sings a song?              Mohan.

अतः, ‘Hari’ और ‘Mohan’ Subject हुए और ये Nominative Case में हैं।

2. Objective Case (कर्म कारक)

Objective Case को हिंदी में कर्म करक कहते हैं। जब Noun या Pronoun का प्रयोग किर्या के कर्म के रूप में होता है,तो उसे Objective Case (कर्म कारक) कहा जाता है।
(If a noun a pronoun is used as the object to a verb, it is in the objective case.)

निम्नलिखित वाक्यों पर ध्यान दें :
Mohan ate a mango.
Sohan drinks milk.
इन वाक्यों में ‘Mango’ और ‘Milk’ Objective Case में हैं; क्योंकि ये क्रमशः Verbs (ate और drink) के Object बनकर आए हैं।
यदि Object का पता लगाना हो, तो Verb और Subject के पहले ‘What’ या ‘Whom’ लगाकर प्रश्न करना चाहिए, उत्तर में जो Noun या Pronoun आए वही object होगा; जैसे – ऊपर के उदाहरण को देखें :
प्रश्न उत्तर
What did Mohan eat ? Mango.
What does Sohan drink? Milk.

इस प्रकार प्रश्न पूछे जाने पर ‘Mango’ और ‘Milk’ उत्तर में आए, अतः ये Object हुए और ये Objective Case (कर्म कारक) में हैं।

याद रखें : Object या तो Transitive Verb (सकर्मक किर्या) का होता है या Preposition का, Intransitive Verb (अकर्मक किर्या) का Object नहीं होता है।
पहचानने का तरीका :
(a) Transitive Verb का Object प्रायः Verb के बाद आता है।
(b) Preposition का Object प्रायः Preposition के बाद आता है।

उदाहरण – Ramesh eats rice.
Sanjay reads a book.
Vijay sat on the bench.
The beggar slept on the ground.
इन वाक्यों में ‘eats’और ‘reads’ Transitive Verb (सकर्मक किर्या) हैं तथा ‘rice’ एवं ‘book’ इसके बाद आए हैं, ये दोनों Transitive Verb के Object हुए।
अन्य दो वाक्यों में ‘sat’ और ‘slept’ Intransitive Verb (अकर्मक किर्या) हैं और इनके बाद Preposition (on) आया है तथा ‘on’ के बाद क्रमशः bench एवं ground;अतः ‘bench’ एवं ‘ground’ Preposition ‘on’ के Object हुए और Objective Case में हैं।

Vocative Case (सम्बोधन कारक)

Vocative Case को हिंदी में सम्बोधन कारक कहते हैं। यदि किसी Noun को सम्बोधित कर या पुकार कर कुछ कहा जाय तो वह Vocative Case (सम्बोधन कारक) में रहेगा।
(If a noun is used as an object of address, it is in the Vocative Case.)
Sohan go there.
Punam come here.
Rakesh,look at the black-board.

इन वाक्यों में Sohan,Punam एवं Rakesh ‘Vocative Case’ में हैं; क्योंकि –
प्रथम वाक्य में – ‘Sohan’ को पुकार कहा जाता है कि वहाँ जाओ (go there)
दूसरे वाक्य में – ‘Punam’ को पुकार कहा जाता है कि यहाँ आओ (come here)
तीसरे वाक्य में – ‘Rakesh’ को पुकार कहा जाता है कि ब्लैकबोर्ड पर देखो (look at the black-board)

4. Possessive Case (सम्बन्ध कारक)

यदि Noun और Pronoun का प्रयोग किसी वस्तु या व्यक्ति के सम्भन्ध या अधिकार जाहिर करने के लिए किया जाय तो वह Possessive Case में रहता है।
(If a noun or pronoun is used to denote possession, it is in the Possessive Case.)

निम्नलिखित वाक्यों पर ध्यान दें :
Sohan’s father is doctor.
madan’s mother is a teacher.
Rakesh’s is Rita’s friend.
this is Mohan’s book.

इन वाक्यों में Sohan, Madan, Rita एवं Mohan ‘Possessive Case’ में हैं; क्योंकि :
Doctor कौन है ? Sohan के पिता (Sohan एवं Father में पुत्र और पिता का सम्भन्ध है।)
Teacher कौन है ? Madan की माता (Madan एवं Mother में पुत्र और माता का सम्भन्ध है।)
Rakesh कौन है ? Rita का मित्र (Rakesh और Rita में मित्रता है अर्थात मित्रता का भाव प्रकट होता है। )
Book किसकी है ? Mohan की (Book पर Mohan के अधिकार का भाव प्रकट होता है। )

Formation of Possessive Case-

1 यदि Noun के अंत में ‘s’ हो तो उसमें सिर्फ Apostrophe s (‘) देने से Possessive Case बन जाता है; जैसे –
Boys से Boys’ Books से Books’
Girls से Girls’
2 यदि Noun के अंत में ‘s’ नहीं है तो Apostrophe s (‘s) जोड़ने से Possessive Case बनता है; जैसे –
Mohan से Mohan’s Boy से Boy’s
Radha से Radha’s
Note यदि Noun (संज्ञा) सजीव हो,तो Possessive Case बनाने के लिए उसके अंत में ‘s लगाया जाता है; जैसे –
Ram’s house राम का घर।
3 यदि संज्ञा (Noun) निर्जीव हो,तो प्रायः ‘of ‘ लगाकर Possessive Case बनाया जता है; जैसे –
घर की बनावट The construction of the house.
कमरे की खिड़की The window of room.
कुर्सी के पैर The legs of the chair.

Note : यदि समय, प्रेम, दूरी, कर्त्तव्य आदि दर्शाना हो ; तो निर्जीव होने पर भी Possessive Case बनाने के लिए उसमें ‘s (एपोस्ट्रॉफी एस) का प्रयोग किया जाता है; जैसे –

प्रेम की शक्ति Loves’s power.
दो महीने की छुट्टी Two month’s leave.
छात्रों का कर्त्तव्य Student’s duty.

 

Content Protection by DMCA.com

Random Posts

Leave a Reply