लाइफ पार्टनर कैसा चुने ?

जब प्यार को, पार्टनर को ढूंढने निकलते है तो भूल जाये जो अच्छा दिखता है, भूल जाये की जो आपको सही लगता है, भूल जाये की आपके दोस्त, माता पिता क्या कहते है, भूल जाये की लोग क्या कहते है , बस ये सोचे की की क्या उसके साथ आप आपको ठीक लगता है ? क्या आप उसके साथ खुश है ? लाइफ पार्टनर कैसा चुने ?

आपको क्या चाहिए और आपको क्या जरूरत है ये दो अलग अलग बातें है | जो आपको चाहिए वो हो चाहे न हो पर जो आपकी जरूरत है अगर वो नहीं है तो आपका सम्बन्ध ख़त्म को जायेगा |

कृष्णा को एक सुन्दर सी लड़की चाहिए थी जिसके साथ वो पार्टी में जाये, घूमने जाये, तो लोग उसे देख कर कहे की उनकी जोड़ी कितनी सुन्दर है, कितनी अच्छी बीवी है और जब उसे कल्पना मिली तो उसका ये सपना पूरा हो गया | कल्पना सुन्दर थी, पड़ी लिखी थी, नौकरी करती थी और उसके साथ अच्छी भी लगती थी |

कुछ दिन तो गुजर गए पर धीरे धीरे कृष्णा को महसूस होने लगा की कल्पना वो लड़की नहीं है जिसकी उसे जरूरत थी | कल्पना घर का कोई काम नहीं करती थी, एक साल में कल्पना ने कभी भी सुबह उठकर कृष्णा के लिए चाय भी नहीं बनायीं थी | वो पार्टी करती, घर देर से आती, हर हफ्ते बाहर खाने की जिद करती, घूमने जाने के लिए कहती | खर्च में कोई कमी नहीं थी | ये सब तो ठीक था पर हद तब हो गयी जब उसने कृष्णा के माँ बाप की इज़्ज़त नहीं की, धीरे धीरे कृष्णा और कल्पना के बीच लड़ाईया शुरू हो गयी, और दोनों फिर अलग हो गए |

कृष्णा चाहता था, सुन्दर, शहर की लड़की जो उसको मिली पर उसकी जरूरत थी एक समझदार लड़की की जो परिवार को पहले रखे और फिर अपने आप को | जो उसका, घर का परिवार का ख्याल रखे और प्यार बना के रहे | इसलिए जब आप प्यार चाहते है तो ये बातें बहुत जरूरी है तो जो आपको मिले वो

देखभाल करने वाली हो न की सुन्दर
हँसने वाली हो न की अमीर
आपके जैसे परिवार से ही हो
जिज्ञासु हो, बहुत बुद्धिमान न हो, जो जिज्ञासु होते है वो समय के साथ जयादा समझदार हो जाते है |

और ये बातें आप एक दिन में नहीं पता सकते है | इंटरनेट पर, फेसबुक पर, गली में जब आप किसी से मिलते है तो आप सिर्फ उनको ऊपर से जान पाते है |

 

एक अच्छे सम्बन्ध में ये सारी बातें होती है :

  • इज़्ज़त

  • भरोसा

  • सच्चाई

  • सहारा

  • बराबरी

  • बातचीत

  • प्यार

 

बुरे संबंध कैसे होते है, जिनसे आपको बचना है |

शराब या दूसरा कोई व्यसन : जब कोई एक पार्टनर किसी व्यसन का शिकार है, वो आपको हमेशा अपने व्यसन के बाद रखेगा |

बातचीत की कमी : आपसे बात करने की बजाये आपका पार्टनर फ़ोन, टीवी या किसी गेम में उलझा रहता है |

जलन : आप किसी से बात करो तो वो जलने लगे, उसका आप को किसी के साथ समय बिताना अच्छा नहीं लगे |

नियंत्रण रखना : पार्टनर का आप पर नियंत्रण रखना, और उसको अपने मन की नहीं करने देना |

वक्त नहीं बिताना : आपके साथ कोई वक्त नहीं बिताना, हमेशा अपने दोस्तों के साथ रहना |

 

वो कहते है न, प्यार ढूंढ़ना आसान है, प्यार को रखना बहुत मुश्किल | याद रखे की अगर आप जिंदगी में आगे बढ़ना चाहते है तो आपको एक अच्छे पार्टनर की जरूरत पड़ेगी, इसलिए थोड़ा रुक कर, देख कर की अपने पार्टनर को चुने |

Content Protection by DMCA.com

Leave a Reply