अस्पताल के 32 मेडिकल स्टाफ को कोरोना, प्रेग्नेंट महिला ने छुपाई थी बीमारी

कोरोना : रोहिणी स्थित अंबेडकर हॉस्टिपल के 32 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इनमें डॉक्टर और नर्स भी शामिल हैं. दरअसल, कुछ दिन पहले अस्पताल में कोरोना संक्रमित एक गर्भवती महिला आई थी. उसने अपनी बीमारी को छुपाया था.

दिल्ली के रोहिणी स्थित अंबेडकर हॉस्टिपल के 32 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. इनमें डॉक्टर और नर्स भी शामिल हैं. दरअसल, कुछ दिन पहले अस्पताल में कोरोना संक्रमित एक गर्भवती महिला आई थी. उसने अपनी बीमारी को छुपाया था. बाद में अस्पताल में ही उसकी मौत हो गई थी. कोरोना संक्रमित गर्भवती महिला से ही 32 स्वास्थ्यकर्मियों में वायरस फैला.

बता दें कि इससे पहले दिल्ली के ही बाबू जगजीवन राम अस्पताल में मेडिकल स्टाफ के 65 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए थे. रविवार को अस्पताल से 21 नए मामले सामने आने के बाद यह आंकड़ा 65 हो गया. इनमें डॉक्टर्स और तमाम स्टाफ शामिल हैं.

इससे पहले अस्पताल के डॉक्टर्स समेत 44 स्टाफ कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में स्थित बाबू जगजीवन राम अस्पताल के स्टाफ में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. दिल्ली में कोरोना से संक्रमित मरीजों की तादाद 2600 से ज्यादा हो गई है. इसमें कोराना वॉरियर्स यानी स्वास्थ्यकर्मियों में भी संक्रमण तेजी से फैला है.

किस अस्पताल के कितने स्टाफ कोरोना की चपेट में

-एम्स में दो नर्स और एक डॉक्टर संक्रमण के शिकार हुए हैं

-सफदरजंग अस्पताल में 7 डॉक्टर और 2 नर्स पॉजिटिव पाए गए

-बाबू जगजीवन राम अस्पताल में 65 स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित हुए

-राजीव गांधी कैंसर अस्पताल के 3 डॉक्टर समेत 21 स्पॉफ पॉजिटिव मिले

-लेडी हार्डिंग अस्पताल के 2 डॉक्टर और 6 नर्स पॉजिटिव हुए हैं

-कलावती शरण अस्पताल में 2 डॉक्टर संक्रमित हुए

-मोहल्ला क्लीनिक बाबरपुर और मौजपुर एक-एक डॉक्टर संक्रमण के शिकार हुए हैं

 

 

 

वहीं, एशिया की सबसे बड़ी मंडी आजादपुर जहां से पूरी दिल्ली में सब्जियों की सप्लाई होती है, यहां 6 कोरोना मरीज मिले हैं. एक शख्स की पहले ही मौत हो चुकी है. 50 मजदूरों और कारोबारियों के टेस्ट कराए गए हैं. कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद दिल्ली सरकार ने साफ कर दिया है वो लॉकडाउन को लेकर किसी तरह की ढील देने के पक्ष में नहीं है.

 

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply