Arandi Ki Kheti Karne Ka Aasaan Aur Sahi Tarika

अरंडी खरीफ की एक बहुत ही प्रमुख फसल है| अरंडी की खेती आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक, बिहार, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, पंजाब तथा राजस्थान के शुष्क भागो में की जाती है|

अरंडी की खेती करने का आसान और सही तरीका

इसका उपज 14.17 क्विंटल प्रति हेक्टेयर है|  इसके बीज में 45% – 55% तेल तथा 12% – 16% प्रतिषत प्रोटीन होती है|  इसके तेल में बहुत ज्यादा 93% में रिस नो लीक नमक अमल पाया जाता है|  जिसके करण इसका औद्योगिक महत्व अधिक है|  इसका तेल मुख्य रूप से क्रीम, श्रृंगार, सौंदर्य, सब कार्बन पेपर, वार्निश मरहम तथा नायलॉन रेशो के निर्माण में प्रयोग किया जाता है| पशु चिकित्सा में इसको जानवर का कब्जदूर करने से लेकर कोई रोग में इसका बहुत प्रयोग किया जाता है|

अरंडी की खेती के उन्नत किस्म

अरंडी की खेती से अधिक उपज प्राप्त करने के लिए उन्नत किस्मों का प्रयोग करना चाहिए|  देसी प्रकारकी अरंडी की तुलाना में उन्नत किस्मों की उपज अधिक होती है| तथा जीवाणु और संक्रमणका प्रकोप कम होता है| अरंडी मुख्य तौर पर उन्नत किसमें होती है| अरुणा, वरुणा, GCH-4, GCH-5, GCH-7 और RCHC-1 है|

अरंडी की खेती के सिंचाई के लिए जमीन और उसकी तैयारी

अरंडी खेत किसी भी प्रकार के जमीन में की जा सकती है|  बालू वाली भूमि जहां पानी ना रुके जो गहरी हो या पानी रोकने की शक्ति हो सही रहती है| अरंडी की जड़ों जमीन के भीतर कॉफी गहरी तक जाती है इस्का खेत तैयार करने के लिए एक गहरी जुताई मिट्टी पलटने वाले हल या ट्रैक्टर से करनी चाहिए उसकी दो या दिन बाद डिस्क हैरो या देसी हल चलकर खेत को तैयार कर लेना चाहिए|

अरंडी के बीज (बीज) लगाने का सही तरीका

अरंडी के बीज को जड़तार जून या जुलाई महीने में बोया जाता है। फसल को बीज की पंक्ति से पंक्ति की दूरी 90 सेमी| और पढ़े से पौधे की दूरी 45 सेमी तक रखी जानी चाहिए। 
इसके लिए 12 - 15 किलोग्राम प्रति हेक्टेयर के हिसाब से बीज की जरूरत पड़ती है। इस विधि से फसल की कटाई कम समय में की जा सकती है। बीज को हल के पीछे या बीज-ड्रिल से भी बोया जा सकता है। 
पर ध्यान रहे के बीज 7-8 सें.मी. की गहराई से अधिक नहीं बोए जाए वरना उत्पादन पर बड़ा असर पड़ता है। बिमारियों से बचने के लिए बीजों को 3 ग्राम थाइरम प्रति किलोग्राम बीज की दर से उपचार कर बोना चाहिए।

 

 

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply

%d bloggers like this: